ये सच अब भी स्वीकार नहीं होता

पता है तुम्हारे बोले कुछ शब्द,
मुझे अब भी सुनाई देते है,
तुम्हारे लौटने के सारे रास्ते बन्द,
फिर भी मुझे उम्मीदें दिखाई देते है।

तुमने भुला दिया है हमको,
इस बात पर कभी यकीन नहीं होता,
हम साथ नहीं है,
ये सच अब भी स्वीकार नहीं होता।
-सन्नी कुमार

Advertisements

मै तुम्हारा दोस्त हूँ।

wpid-img_20150208_125041.jpg
उमंगों से भरा हूँ,
परिंदा मैं नया हूँ,
जोश से लबरेज हूँ,
मैं तुम्हारा दोस्त हूँ।

घिरा हूँ मै दोस्तों से,
पर तुम बिन मैं अकेला हूँ,
घिरा हूँ मैं आँधियों से,
पर मैं मुहब्बत का दिया हूँ।

अपने भारतवर्ष महान में..

Bhrashtaachaar
खिलाड़ी बैठे संसद में है,
सटोरी आधे मैदान में,
लूटने की होड़ लगी है,
अपने भारतवर्ष महान में..

मन्नू को सन्नो की चिंता,
सन्नो को स्वीस अकाउंट की.
सिपाही को करना पर रहा चोरों की रक्षा,
अपने भारतवर्ष महान में..

हाँ ख्वाब से हसीं कुछ और नहीं..

Priyeeeeeवो कहती है खुबसूरत तो नजरें होती है,
चेहरा नहीं..
मै कहता हूँ खुबसूरत ख्वाब होती है,
नजरें नहीं..
वो कहती है ख्वाब तो बस झूठ है,
सच नहीं..
मै कहता हूँ ख्वाब झूठ भी है,
और सच भी..
वो कहती है हकीकत से हसीं,
कुछ और नहीं..
मै कहता हूँ दुनिया ख्वाब की दीवानी है,
और इससे हसीं कुछ और नहीं..
हाँ ख्वाब से हसीं कुछ और नहीं..!!

क्यूंकि हर चेहरे में तू ही नज़र आता है..

Veer's Cutieजिंदगी के हज़ारों मतलब थे तेरे मिलने से पहले ,
अब सब मतलबों का मतलब प्यार समझ आता है।।
पहले चेहरों को देख बदलते थे रंग मेरे चेहरे पे,
अब मुस्कुराता हूँ हर पल  क्यूंकि हर चेहरे में तू ही नज़र आता है।।
——————————————————-
Jindagi ke hazaaron matlab the tere milne se pahle,
ab sab matlabon ka matlab pyaar samajh aata hai..
pehle chehron ko dekh rang badalte the mere chehre pe,
ab har pal muskuraata hu ki har chehre mein tu hi nazar aata hai…

ये दिल मुझसे कहता है..

IMG_20170724_163431तुम हो इतनी  हसीन  कि चुरा लूँ तुम्हें, ये  दिल मुझसे कहता है..
कोई देखे न इस नूर को सो छुपा लूँ तुम्हें, ये दिल मुझसे कहता है..

ख्वाहिशें जो भी है तुम्हारे पुरे कर दूँ मै आज, ये  दिल मुझसे कहता है..
जो भी है ख्वाब तुम्हारे उनको जिंदगी बना दू आज,ये दिल मुझसे कहता है..

चाहे कितनी ही हों उलझनें, मन मुश्किलों में भले हो..
मै  लाऊं मुस्कराहट तेरे चेहरे पे, ये दिल मुझसे कहता है..

तुम हो सबसे हसीं, मीठी मिश्री सी हो तुम..
करू तुमसे दीवानगी का इकरार, ये दिल मुझसे कहता है।

इस रंगीन दुनिया से तेरा रंग चुरा लूँ, ये दिल मुझसे कहता है..
अपने ख्वाब को हकीकत बना दूँ, ये दिल मुझसे कहता है..

हसरतें और भी है पर जी लूँ दो पल तुम्हारे साथ,ये दिल मुझसे कहता है..
तुम हो इतनी  हसीन  कि चुरा लूँ तुम्हें, ये  दिल मुझसे कहता है।

-सन्नी कुमार
[एक निवेदन- आपको हमारी रचना कैसी लगी कमेंट करके हमें सूचित करें. धन्यवाद।]

तुम मेरी माँ हो..

धरती पर लाया है तुमने,
दुनिया मुझे दिखाया तुमने
अपनी गोद में रखकर,
खूब घुमाया मुझको तुमने।
मुझ छोटे से बच्चे को,
अपना जहाँ बनाया तुमने।
धरती पर लाया है तुमने,
जीना मुझे सीखाया तुमने।

मेरी हर एक हंसी,
दीखती तेरे चेहरे से।
मेरे आँखों के आँसू,
नीकले तेरे आँखों से।
मुझे कोई पीरा हो तो,
आराम न होता है तुमसे,
मेरी हर एक खुशी,
दीखती तेरे चेहरे से।

मुझसे कोई गलती हो ,
तो खूब डाँटती हो,
मुझे दो थप्पर लगाकर,
खुद रोने लग जाती हो।
मेरी हर शरारत को,
तुम पल मे भूल जाती हो,
मै अगर अच्छा करूं तो,
मुझको गले लगाती हो।

इस धूप सी दुनिया में,
तुम ही एक छाया हो,
इस शक कि दुनिया में,
तुम मेरा विश्वास हो।
और न तुझसा दूजा,
क्यूंकि तुम मेरी माँ हो।

-सन्नी कुमार
[एक निवेदन- आपको हमारी रचना कैसी लगी कमेंट करके हमें सूचित करें. धन्यवाद।]

वो पल अब भी है साथ..

वक़्त भले बीत गया,
पर वो पल अब भी है साथ|
होता था जब साथ हमारा,
सूर्योदय-सूर्यास्त…

सुबह की पहली धुप जब,
सेकते थे हम सब साथ|
हलकी-फुल्की योगा या फिर,
करते थे कुछ कसरत खास ..

था मौसम गर्मी का वो,
पर छुट्टी से तो सबको प्यार,
गर्मी की उन छुट्टियों में,
क्रिकेट का था चढ़ा बुखार..

सुबह की पहली किरणों संग ही,
लहरा देते थे बल्ला यार,
जो जीत गए सुबह की मैचें,
दिन भर करते थे आराम..

जब सुबहें हार दिखाती थी,
करते शाम का इन्तेजार,
और शाम की जीत के साथ,
सुबह को हम भूलते थे..

जो भी हो उन खेल का पर
वो पल अब भी साथ..
खेलो में यारो के नखरे,
नहीं कोई नयी बात..

उन सुबहों की ताजगी,
ताजा करती मुझे आज भी..
सूरज को जब देखता हूँ,
वही स्फूर्ति फिर पाता हूँ..

वक़्त भले बीत गया,
पर वो पल अब भी है साथ|
होता था जब साथ हमारा,
सूर्योदय-सूर्यास्त…

-सन्नी कुमार
[एक निवेदन- आपको हमारी रचना कैसी लगी कमेंट करके हमें सूचित करें. धन्यवाद।]

Create a free website or blog at WordPress.com.

Up ↑

%d bloggers like this: