कोशिश आज भी सरेआम करता हूँ

IMG_20150325_211238[1]हर मौके पर न सही, हर आवाज को न सही,
पर कुछ से कहु, कुछ को सुनूं, ये कोशिश हर बार करता हूँ,
हर महफ़िल में न सही, हर मंच पे न सही,
पर खुद से मिलु किसी मेले में, सहेजु कल की तस्वीरों को,
कोशिश आज भी सरेआम करता हूँ। 😉
– सन्नी कुमार
———————————————————————–
Har mauke par na sahi, har awaj ko na sahi,
Par kuchh se kahu, kuchh ki sunu, ye koshish har baar karta hu..
Har mahfil me na sahi, har manch pe n sahi,
Par khud se milu kisi mele mein, saheju kal ki tasweeron ko, koshish aaj bhi sare-aam karta hun.

Advertisements

Create a free website or blog at WordPress.com.

Up ↑

%d bloggers like this: