क्यों ठेकेदारों को गुस्सा आया है

जब जरूरत हो तब सब यार होते है,
और जब जरूरत न हो तब पलटवार होते है,
यकीन जानिए और इनको सुनना बन्द कीजिये,
है ये भी गद्दार जो चुनाव में ही आपके हमदर्द होते है…

कल तक सिद्धू-शत्रु कांग्रेस की बजाते थे,
कि कल तक साईकल को हाथी फूटी आँख न भाते थे,
पर आज भय है कालेधन की तरह ख़ारिज हो जाने का,
इसलिए बहाना कि देश खतरे में है चलो महागठबंधन बनाते है..

सब कहते है और मैं भी दिल से मानता हूँ,
कि मोदी सख्त है, जाली नोट बन्द, सब्सिडी की हेरा-फेरी बन्द है,
किसान की तरह वह भी हो गया क्रूर है,
कह रहा फसल लगे खेत में चूहों का प्रवेश बन्द है…

खल रहा है उसका होना क्यों देश के हर गद्दार को,
बेल पे छूटे नेताओं और हर तड़ीपार-नजरबंद को,
कोई खुल के बतायेगा क्या की उसने आखिर किस बिल में पानी डाला है,
क्या कालाधन माटी हो गया तुम्हारा,
क्या तुम्हारे खज़ाने में भी ताला मारा है?
आखिर क्यों असहिष्णुता, राफेल जैसे मिथक मुद्दों पर,
तुमने इतना उत्पात मचाया है…

जरा देखिए नौंवी फेल नेता ने क्या-क्या आरोप लगाया है,
राफेल को तोप-बोफोर्स समझने वालों ने भी मुद्दों को उछाला है,
जिसको पैंतीस और विश्वेश्वरैया समझ न आया,
उस युवराज ने डील की गणित समझाया है,
हद है कि जिस दल के सांसद कम और घोटाले की संख्या ज्यादा है,
कि जिनके रहते सेना का असला खत्म था, रक्षा सौदा अधूरा था,
उन्होंने भी इस मुद्दे पर बेशर्मी से खुद का पीठ थपथपाया है…

पूछो की ये कैसे लोग है,
ये कैसी पारदर्शिता की बात करते है,
जिन्होंने डिजिटल इंडिया को ठुकराया है,
मदद आती है अब सीधे एकाउंट में,
क्या यही कारण है कि ठेकेदारों को गुस्सा आया है?
क्रमशः
©सन्नी कुमार ‘अद्विक’
http://www.sunnymca.wordpress.com

Advertisements

6 thoughts on “क्यों ठेकेदारों को गुस्सा आया है

Add yours

  1. कल तक सिद्धू-शत्रु कांग्रेस की बजाते थे,
    कि कल तक साईकल को हाथी फूटी आँख न भाते थे,
    पर आज भय है कालेधन की तरह ख़ारिज हो जाने का,
    इसलिए बहाना कि देश खतरे में है चलो महागठबंधन बनाते है..
    Waah…..waah…..waah……kyaa khub likha hai……behtarin.

Feedback Please :)

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

Create a free website or blog at WordPress.com.

Up ↑

%d bloggers like this: